संख्या पद्धति


प्रतियोगी गणित

Direction: निम्नलिखित संख्या श्रेणियों में प्रश्नचिन्ह (?) के स्थान पर क्या आएगा ?

  1. 6, 9, 12, 15, 18, ?









  1. सुझाव देखें उत्तर देखें चर्चा करें

    6 + 3 = 9,
    9 + 3 = 12,
    12 + 3 = 15,
    15 + 3 = 18
    ..................
    ...................

    सही विकल्प: A

    6 + 3 = 9,
    9 + 3 = 12,
    12 + 3 = 15,
    15 + 3 = 18
    अतः 18 + 3 = ?
    ∴ ? = 21


  1. 4, 7, 12, 19, 28, ?









  1. सुझाव देखें उत्तर देखें चर्चा करें

    4 + 3 = 7,
    7 + 5 = 12,
    12 + 7 = 19,
    19 + 9 = 28
    ..........................
    ...........................

    सही विकल्प: C

    4 + 3 = 7,
    7 + 5 = 12,
    12 + 7 = 19,
    19 + 9 = 28
    अतः 28 + 11 = ?
    ∴ ? = 39



  1. 143865 निम्न में से किससे विभाज्य है ?









  1. सुझाव देखें उत्तर देखें चर्चा करें

    ∵ 143865 एक विषम संख्या है तथा इसका अन्तिम अंक 5 है | अतः यह 2 तथा 4 दोनों से विभाजित नहीं हो सकती |

    सही विकल्प: D

    ∵ 143865 एक विषम संख्या है तथा इसका अन्तिम अंक 5 है | अतः यह 2 तथा 4 दोनों से विभाजित नहीं हो सकती |
    पुनः 143865 के अंको का योग = 1+4 +3 +8 +6 +5 = 27
    ∴ अंको योग 3 तथा 9 दोनों से विभाजित है , इसलिए यह 3 तथा 9 दोनों से विभाजित होगी | चूँकि इस संख्या का अन्तिम 5 है | इसलिए यह 5 से भी विभाजित होगी | अतः यह संख्या 3 , 5 और 9 से विभाजित है |


  1. निम्न संख्याओं में से कौन-सी 18 से विभाजित नहीं है ?









  1. सुझाव देखें उत्तर देखें चर्चा करें

    कोई भी संख्या 18 से पूर्णतया विभाजित होगी , यदि वह 2 से एवं 9 से पूर्णतया विभाजित हो जाए |

    सही विकल्प: D

    कोई भी संख्या 18 से पूर्णतया विभाजित होगी , यदि वह 2 से एवं 9 से पूर्णतया विभाजित हो जाए | स्पष्टतः संख्या 65043 , संख्या 2 से विभाजित नहीं है |
    ∴ अभीष्ट संख्या = 65043



  1. वह कौन सी संख्या है , जिसको अपने में ही 20 बार जोड़ने से परिणाम 861 आता हो ?









  1. सुझाव देखें उत्तर देखें चर्चा करें

    किसी भी संख्या को स्वयं में ही 20 बार जोड़ने का तात्पर्य है उस संख्या का (20 +1) से गुणन |

    सही विकल्प: A

    किसी भी संख्या को स्वयं में ही 20 बार जोड़ने का तात्पर्य है उस संख्या का (20 +1) से गुणन |
    ∴ अभीष्ट संख्या = 861 ÷20 +1 = 861 ÷ 21 = 41